watch sexy videos at nza-vids!
sex stories
गर्लफ्रेंड की एसी चुदाई कभी नही की

अभी मैं आपको एक साची कहानी बतने जा रहा हू पहले मैं अपने आपको इंटरडियुस करा दु आपसे… मेरा नाम अभी है और मैं आगरा का रहने वाला हू मेरी गर्लफ्रेंड जिसके बड़े मे ये कहानी है वो भी आगरा की ही रहने वाली है उसका साइज़ 34 28 36 है जो की मुझे बहुत प्यारा लगता है मेरा लॅंड का साइज़ 7″ है और 3″ मोटा है ये बात दो साल पहले की है जब मैं ब आ विद आर्ट्स कराता था आगरा से और गर्लफ्रेंड भी वही पे पढ़ती थी जिस दिन वो पहली बार कॉलेज मे आई क्या बताऊ दोस्तो मेरा होश ही उस गये क्या सेक्सी चल थी यार जा वो चलती थी

तो उसका गान्ड देख के मन मे कराता था की उसके गांड को पकड़ के चोद दु उसका नाम सुनीता था कालेज के सारे लड़के उसके पे फिदा थे ऐसे ही उसे देखते देखते 5 महीने हो गये पर कुछ भी सुनीता के तरफ से रिप्लाइ नही आया फिर एक दिन मेरे कालेज और दूसरे कॉलेज से करिकेट मॅच होना था उस दिन मैं अपना की लेकर कालेज पहुँच तो देखा की सुनीता भी आई हुई थी और पूरा कालेज तो था ही मॅच देखने के लिए दोस्तो मैं करिकेट बहुत ही अच्छा खेलता हू और अपने कालेज टीम का ओपनर भी हू फिर उस दिन मॅच शुरु हुआ तो मॅच का पूरा मज़ा सारा कालेज ले रहा था उस दिन मैने अकेले दम पे मॅच को जिताया तो उस दिन से सुनीता मेरे उप्पर फिदा हो गयी और फिर लाइन मरने लगी मैं कहा कम रहने वाला था मैं भी खूब लाइन मारी फिर एग्ज़ॅम के टाइम मैने उसे प्रपोज किया तो एक्सेप्ट कर ली उस दिन मैं बहुत खुश था फिर हम दोनो की बात फोन पे होने लगी

फिर एक दिन मैं बोला की मुझे तुमसे मिलना है तो उसने बोला की ठीक है मेरे मम्मी पापा भैया के ससुराल जाएँगे उनके यहा शादी है तो भैया और भाभी भी नही रहेंगे कल तो मैं कॉल करूँगी तो आ जाना मैने बोला ठीक है उस दिन तो मेरे मॅन मे लड्डू फुट रहा था फिर अगले दिन मैं उसके फोन का इंतेजर कर रहा था पर उस दिन कॉल नही आया मैं बहुत उदास बैठा हुवा था और बैठे बैठे नींद आ गई अगले सुबह ही उसका फोन आया की मम्मी पापा नही है आ जाओ घर पे मैं अकेली हू फिर मैं तुरंत रीडी होके उसके घर पहुँचा और दूर बेल बजाई तो उसने दरवाजा खोला तो देख के उसको होश ही उस गया क्या लग रही थी यारो शादी पहनी हुई थी क्यूकी मैं पहले ही बोला था की शादी पहन लेना

फिर उसने मेरा वालेकम किया और मैं उसके घर के अंदर जाते ही उसका हाथ पकड़ के अपनी तरफ किंचा तो वो बोली की थोड़ा इंतेजर तो करो इतनी भी जल्दी क्या है तो मैने बोला की बस अब इतेज़र नही होता फिर मैं उसके गर्दन पे किस करने लगा तो वो मेरे बालो मे अपना हाथ फेरने लगी तो मैं समझ गया की ग्रीन लाइट है फिर मैं उसके कानो मे पूछा की क्या तुम वर्जिन हो तो वो धीरे से बोली की अब तुम खुद देख लेना फिर मैं उसके होंठों पे अपना होंठ देख दिया और स्मूच करने लगा वो भी पूरा साथ दे रही थी फिर मैने उसके कमर को पकड़ के पूरा दबोच लिया अब हम दोनो के बीच मे से हवा भी पास नही हो पा रही थी
फिर उसके शादी पल्लू मैने हटा दिया और गर्दन के पीछे से किस करने लगा क्या मज़ा आ रहा था भाई क्या मस्त माल थी फिर मैने उसको बेड पे लिटा दिया और उसके शादी को धीरे धीरे उप्पर करने लगा और उसके गोरे गोरे जाँघो को खूब चूमने लगा फिर उसके नाभी को मैने खूब चाहता उसपे थूक के चाहता और उसके बाद धीरे धीरे मैं उप्पर गया तो उसका ब्ल्ौज का बतन खोल रहा था तब उसने बोला अभी मुझे शर्म आ रही है मैं बोला की मुझसे क्या शरमाना और बेलाओज को खोल दिया पिंक कलर का ब्रा पहनी हुई थी क्या मस्त चुचि थी यार फिर पागलो की त्राह उसके मसलने लगा वो अपने मूह से बस आहह हह आह हह्ा हे हह आह हह की आवाज़ निकल रही थी

फिर मैने उसको बोला की आज तो तेरी गांड भी मारूँगा वो बोली की जान आज मैं आपकी रंडी हू जो मॅन मे आ रहा है वो करो फिर मैने उसके शादी एक झटके मे खोल दिया और पेटोक्ॉआट के उप्पर से ही उसके चुत को रगड़ने लगा उसके मूह से चीख निकल गयी और उठ के मेरे सिने से लिपट गयी उसके बाद मैने उसके होंठों को स्मोच करना शुरु किया और धीरे धीरे नीचे लिटा के उसके पेटीकोआट को खोलने लगा पर दूरी बहुत मजबूत थी तो उसने खुद खोला फिर पेटिकोट को अलग कर दिया और पैंटी के उप्पर से ही उसके ट को चातने लगा वो मेरा सर पकड़ के दबा रही थी अपनी चुत पे और मूह से केवल अहह अहह हह आह हह्ा हहह हह हे हह आह हह आह हह आह हह की आवाज़े निकल रही थी मुझे भी उसकी आवाज़ सुन के बहुत मज़ा आ रहा था फिर थोड़ी देर बाद मैं अपना सारा कपड़ा निकल दिया और अपना लॅंड उसके मूह के पास ले गया तो वो डर गयी की इतना बड़ा मैं नही ले पाउंगी

फिर मैने उसको समझाया तो वो धीरे धीरे मूह खोली और मैं उसके मूह मे अपना लॅंड डाल दिया वो धीरे धीरे चूस रही थी तो जोश मे अपना सारा लॅंड उसके मूह मे डालना चाहा तो कांप गयी और लॅंड को मूह से निकल दिया फिर मैं एक दो बार बोला पर उसने मना कर दिया तो मैने भी ज़्यादा ज़िद नही की और उसका पैंटी को खोल दी तो उसके चुत पे हल्का हल्का बाल था तो जैसे ही मैं चुत चातने के लिए झुका तो उसने मना कर दिया की उसको ये सब पसंद नही है तो मैने उसके चुत पे अपना लॅंड को रगड़ने लगा तो वो बोली की धीरे से डालना आज मेरा पहली बार है मैं बोला की देखता हू और उसकी चुत बहुत ज़्यादा गीली थी फिर मैने एक झटका मारा और आधा लॅंड उसके चुत मे चला गया और वो बहुत तड़पने लगी वो उप्पर की तरफ खिशकरही थी

तो मैं उसको काश के पकड़ लिया और एक झटका और मारा तो थोड़ा और चला गया वो रोने लगी बोली की अब निकल लो मैं अब बर्दस्त नही कर सकती फिर मैं उसके होंठों को चूसने लगा और धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा वो थोड़ी देर बाद थोड़ा शांत हुई और अपना गांड हिलने लगी तो मैं समझ गया की उसको मज़ा आ रहा है

फिर मैं उप्पर उठा तो देखा की मेरे लॅंड पे खून ही खून लगा हुआ था तो समझ गया की सील पॅक माल है पर ये बात मैने उसको नही बताई की वो डर जाएगी और मैं फिर से उसके उप्पर लेट गया और ज़ोर ज़ोर से चुदाई करने लगा उसके मूह से केवल अहहा हाहः हह हह हह हहा हह हहहह हहहह हहा हह हहा हह की आवाज़ आ रही थी

और फिर मेरा गिरने वाला था तो मैने बोला कहा गीरौ वो बोली की आप जहा चाहो तो मैने बोला मैं तो तुम्हारे मूह मे गिरना चाहता हू तो वो बोली तहिक है मैं उसके मूह मे पूरा माल दे दिया वो मेरा पूरा माल पे गई और हम एक दूसरे के बाँहो मे लेट गये.


| HOME |
(c) MeriSexKahani
95